संघ समाचार

विजयादशमी उत्सव (रविवार दि. 25 अक्तूबर 2020) के अवसर पर प. पू. सरसंघचालक डॉ. मोहन जी भागवत का उद्बोधन

विजयादशमी उत्सव (रविवार दि. 25 अक्तूबर 2020) के अवसर पर प. पू. सरसंघचालक डॉ. मोहन जी भागवत का उद्बोधन

अपने समाज की एकरसता का, सहज करुणा व शील प्रवृत्ति का, संकट में परस्पर सहयोग के संस्कार का, जिन सब बातों को सोशल कैपिटल ऐसा अंग्रेजी में कहा जाता है, उस अपने सांस्कृतिक संचित सत्त्व का सुखद परिचय इस संकट में हम सभी को मिला। स्वतंत्रता के बाद धैर्य, आत्मविश्वास व सामूहिकता की यह अनुभूति अनेकों ने पहली बार पाई है। समाज के उन सभी सेवाप्रेमी नामित, अनामिक, जीवित या बलिदान हो चुके बंधु भगिनियों का, चिकित्सकों का, कर्मचारियों का, समाज के सभी वर्गों से आने वाले सेवा परायण घटकों को श्रद्धापूर्वक शत शत नमन है। वे सभी

विजयादशमी संबोधन 2020   इंग्लिश  हिंदी

 

संघ को समझे

सोशल मीडिया

वीडियो


कर्नाटक संघ शिक्षा वर्ग २०१७
केरल संघ शिक्षा वर्ग २०१७
संघ के घोष विभाग की डॉ. बाबासाहेब आंबेडकर को मानवंदना, देवगिरी प्रान्त २०१७